Skip to content

JAIN ACCOUNTS

Home » Saving account के बारे में सम्पूर्ण जानकारी।

Saving account के बारे में सम्पूर्ण जानकारी।

All information about saving Accounts

Bank में आज Saving account सबसे ज्यादा खुलवाया जाता है। ये सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला financial instruments है। भारत या विश्व की लगभग सभी बैंक में एक साधारण परिवार के लिए सबसे ज्यादा बचत खाता ही खोला जाता है।

इसमें account holder अपना पैसा जमा कर सकते हैं। और उस पर जो ब्याज मिलता है उससे अपना पैसा बढ़ा सकते हैं। इस तरह का खाता सबसे ज्यादा पसंद किये जाने वाला खाता है। इसमें जमा और निकासी की कोई सीमा नहीं होती।

अगर आप इस पेज पर आए हैं तो आपका भी किसी ना किसी बैंक में खाता ज़रुर होगा या फिर आप bank में खाता खुलवाने की सोच रहे होंगें। इसीलिए आज इस पेज पर आपको saving account के बारे पूरी जानकारी मिलेगी फिर आपको जो भी सही लगे आप अपनी सुविधानुसार account open कर सकते हैं।

अगर आपका बचत खाता नहीं हैं और आप बचत खुलवाना चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़े। इस लेख में आपको Saving accounts के बारे में आपको आरंभ से लेकर अंत तक पूरी जानकारी मिलेगी। जिससे आपको बचत खाता खोलने में मदद मिलेगी। इस लेख में हम जानेंगे कि

बचत खाता क्या होता है? बचत खाते कितने प्रकार के होते हैं? किस तरह से आप बचत खाते का उपयोग कर सकते हैं? क्या दस्तावेज़ लगते हैं और क्यों लगते हैं? किस प्रकार के खाते में हमें क्या फायदा मिलता है? विदेशी लोग अगर भारत में बचत खाता खोलना चाहें तो उसके लिए क्या करना पड़ता है?

इस तरह की और भी जानकारी आपको इस article में मिलने वाली है। इसलिए पूरे article को ध्यान से पढ़ें ताकि कोई भी जानकारी आपसे छूट ना जाए।

बचत खाता क्या है?

दोस्तों भारत में बैंक अकाउंट बहुत प्रकार के होते हैं। जिनमें saving account बहुत ही important account है जिसे अधिकतर लोग उपयोग करते हैं। इसमें लोग अपना कमाया हुआ पैसा जमा करते हैं और साथ ही साथ अच्छा ब्याज भी कमा सकते हैं।

इस तरह के खातों में आपको पूरी security मिलती है। अगर बात करें ब्याज की, तो इसमें आपको मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक और वार्षिक ब्याज मिलता है। आइए अब Detail में saving account की विशेषताएँ जान लेते हैं जो कि आपके बहुत काम आने वाली हैं।

saving account की विशेषताएं क्या हैं?

बचत खाते की प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित हैं जिन्हें पढ़कर आप अपनी Banking knowledge को बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं Features of saving account

  • सबसे पहले आपको यह बता देते हैं कि बचत खाता में ब्याज आखिर कितना मिलता है? तो सामान्यतः ग्राहक की ब्याज दर 2% से लेकर 7% के मध्य होती है। किंतु वरिष्ठ नागरिक ग्राहकों को ब्याज दर थोड़ी अधिक मिलती है जो तुलनात्मक रूप से लगभग 0.50% अतिरिक्त ब्याज दर होती है।
  • आपकी जमा राशि पर मिलने वाला ब्याज आपको किस तरह से लेना है? ये चुनाव आप खुद कर सकते हैं मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक या वार्षिक।
  • इसके अलावा Deposite Insurance and credit guarantee corporation (DICGC) के द्वारा ₹5 लाख तक की बैंक जमा राशि का बीमा किया जाता है।
  • इस तरह के खाते में लेनदेन की कोई सीमा नहीं है। account holder जितनी बार चाहे पैसा जमा कर सकता है और निकाल सकता है। इसके साथ ही आपको मासिक औसत शेष (MAB) का पालन करना चाहिए।
  • saving account holder को पैसे निकालने के लिए internet Banking और mobile banking की सुविधा मिलती है। और इसके साथ debit card और cheque book और SMS जैसी सुविधा भी मिलती हैं। जिससे आप कभी भी और कहीं भी पैसे आसानी से निकाल सकते हैं और उसकी जानकारी भी रख सकते हैं।
  • account holder को कई online payment service के साथ जोड़ा जाता हैं। जिससे बचत खाते के माध्यम से राशि का लेनदेन आसानी से किया जा सके। इसमें Unified Payment Interface (UPI), National Electronic Fund Transfer (NEFT), Real Time Gross Settlement (RTGS), Immediate Payment Service (IMPS) जैसे मंच शामिल हैं।
  • आपको बता दें कि account holder अपने इस बैंक खाते को Digital Application से जोड़ सकता हैं। जैसे Google Pay, Phone Pay इत्यादि।

Saving account कितने प्रकार के होते हैं?

कई लोग इस समस्या से जूझ रहे होते हैं कि saving account uses में कौन सा खाता उनके लिए सबसे उपयोगी होगा? आज हम इस लेख के माध्यम से जानेंगे कि बचत खाते कितने प्रकार के होते हैं? और आपको किस तरह का बचत खाता लेना चाहिए।

आज का समय बदल चुका है। आज लगभग हर किसी का एक bank account तो ज़रूर होता है। चाहें वो स्कूल में पढ़ने वाला छात्र हो, साधारण नौकरी करने वाला इंसान हो या फिर कोई साधारण या बड़े level का Business करने वाला हो।

छात्रों को विद्यालय की तरफ से saving account open करा दिया जाता है। अधिकतर लोग बचत खाता खुलवाते हैं। पर क्या आपको types of saving Accounts पता है? यह 8 प्रकार के होते हैं। आइए Saving Accounts types के बारे में विस्तार से जानते हैं।

Regular savings account

Regular savings account open करने के लिए कुछ Basic Terms होतें हैं। जिन्हें आपको follow करना होता है। इस तरह के बचत खाते में आप नियमित पैसे जमा नहीं कर सकते अर्थात् इसमें fixed amount का regular deposit नहीं होता।

Regular savings account का उपयोग एक safe house की तरह केवल आपकी बचत आय को जमा करने के लिए किया जाता हैं। इसमें एक minimum amount रखने की आवश्यकता होती हैं।

Salary savings account

इसका उपयोग salary देने या लेने के लिए किया जाता है। यह खाता एक employer द्वारा अपने employee के लिए खोला जाता हैं। और प्रत्येक माह में निश्चित समयावधि के अन्तर्गत कंपनी के खाते से राशि को कर्मचारी के खाते में स्थांतरित किया जाता हैं।

इस तरह के account में regular saving account की तरह किसी भी तरह की minimum balance रखने की कोई शर्त नहीं होती। मगर आपके खाते में तीन महीने तक कोई payment transfer नहीं की जाती तो आपका ये account, Salary savings account से बदलकर खुद बा खुद Regular savings account में बदल जाएगा।

Senior Citizens Savings Account

ये खाता Senior Citizens को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। जो regular saving account की तरह ही कार्य करता है किंतु इस खाते में Senior Citizens को ब्याज़ अधिक मिल जाता है।

इसीलिए हमारी आपको सलाह है कि अगर आप Senior Citizen हैं या अपने माँ बाप का account खुलवाने वाले हैं। तो Senior Citizens Savings Account ही खुलवाएँ क्योंकि इस खाते में उन्हें ब्याज दर अच्छी मिल जाएगी।

एक बात आपको और बता दें कि Senior Citizens Savings Account को Citizens saving schemes से link कर दिया जाता है जिससे वह कभी भी pension fund या retirement accounts से आवश्यकतानुसार fund निकालकर उपयोग में ले सकते हैं।

Minors Saving Account

इसे बच्चों के लिए खोला जाता है। जैसा कि हम आपको शुरू में ही बता चुके हैं कि आज के समय लगभग हर किसी का एक bank account जरूर होता है। इस खाते में सबसे खास बात ये है कि इसमें minimum balance जैसे कोई शर्त नहीं होती।

ये बचत खाते बच्चों की पढा़ई के लिए उपयोग किया जाता है जो कि विद्यालय की तरफ से खोला जाता है। जिसमें विद्यालय से संबंधित सभी banking आवश्यकताओं को पुर्ण किया जाता है।

इस तरह का खाता बच्चों के माता-पिता की देख रेख में ही रखा जाता है। यदि बच्चे बहुत छोटे हैं तो माँ-बाप ही वो account operate करते हैं और जैसे ही बच्चा 18 साल का हो जाता है वैसे ही ये Minors Saving Account को regular saving account में बदल दिया जाता है।

Zero Balance Savings Account

इस account को आप saving account और current account दोनों तरह से उपयोग कर सकते हैं। क्योंकि इसमें दोनों के ही features होते हैं।

इसमें पैसा निकालने की एक limitation होती है। इसका मतलब ये है कि आप इस तरह के खाते से एक limit से ज्यादा पैसा निकाल नहीं पाएँगें लेकिन अगर इस खाते में किसी कारण balance कम हो जाता है तो आप पर किसी भी तरह की कोई penalty नहीं लगेगी।

महिला बचत खाता:

इस तरह के खाते specially महिलाओं के लिए बनाए गये हैं। इसमें महिलाओं के लिए कुछ अलग अधिकार भी मिलते हैं। इस तरह के खाते में महिलाओं को special debit card, तरजीही ऋण और credit offers, locker पर discount, multi-city cheque book, असीमित ATM नकद निकासी, न्यूनतम पर छूट संतुलन की आवश्यकता इत्यादि अधिकार मिलते हैं

Instant Digital Savings Account:

तत्काल डिजिटल बचत खाता उन लोगों के लिए बहुत पसंदीदा होंगा जिन्हें समय की कमी रहती है। वो इसलिए कयोंकि इस तरह के बचत खाते बिना बैंक जाए online खोले जा सकते हैं।

इसके लिए सबसे पहले KYC Process को complete करना होता है। उसके बाद mobile से ही या mobile banking application के जरिए कुछ ही सेकेंड में आप अपना account open कर सकते हैं।

अगर एक limited time period के अंदर आपने KYC complete नहीं की तो बैंक आपका account hold पर रख देगी। आपको बता दें कि इस तरह के account में कुछ बैंकों की limited amount एक लाख रुपए होती है।

family savings account

पारिवारिक बचत खाता: इस तरह के खाते परिवार के किसी एक सदस्य की 🆔 लगाकर ही खोले जा सकते हैं। इस तरह के खाते से आपको आवर्ती जमा, सावधि जमा इत्यादि जैसे बहुत से benefits मिलते हैं। इस खाते के अंतर्गत आने वाले परिवार के सदस्यों में माता-पिता, पति या पत्नी, दादा-दादी, पोते-पोतियाँ, बच्चे शामिल हैं।

बचत खाते के क्या लाभ हैं?

बचत खाते में पैसे रखने के कई लाभ हो सकते हैं। जैसे

  • आर्थिक सुरक्षा: बचत खाता आपको आर्थिक सुरक्षा प्रदान करता है। जिससे आप अनपेक्षित खर्चों और आने वाले समय की आर्थिक जरूरतों के साथ सामर्थ्यपूर्ण रूप से निपट सकते हैं।
  • आर्थिक रिजर्व: बचत के जरिए आप आर्थिक रिजर्व बना सकते हैं। जो आने वाले समय में आपके लिए एक सुरक्षा नेट की भूमिका निभा सकता है।
  • ब्याज की वृद्धि: कई बचत खाते ब्याज प्रदान करते हैं। जिससे आपके पैसे बढ़ सकते हैं और उन्हें अनुपयोगी नहीं बैठना पड़ता।
  • नियमित बचत की आदत: बचत खाते में पैसे रखने से नियमित बचत की आदत बनती है। जिससे आप अपने वित्तीय लक्ष्यों की प्राप्ति में मदद कर सकते हैं।
  • अद्भुत लाभ: बचत खाता आपको बचत के लिए उपयुक्त ब्याज और अन्य लाभ प्रदान कर सकता है जो आपके अन्य खातो में नहीं मिल सकता।
  • किस्तों का उपयोग: बचत खाता आपको बड़ी राशि को छोटे किस्तों में विभाजित करने का सुविधाजनक देता है। जिससे आप अपने लक्ष्यों की ओर बढ़ सकते हैं।
  • बिना जोखिम की निवेश: बचत खाता एक सुरक्षित तरीका है जिससे आप अधिक जोखिम उठाए बिना पैसे बचा सकते हैं।
  • आर्थिक योजना: यह एक आर्थिक योजना बनाने का माध्यम भी हो सकता है। जिससे आप अपने लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए सही मार्ग पर रह सकते हैं।
  • आत्म-नियंत्रण: बचत के माध्यम से आप अपने वित्तीय स्थिति पर नियंत्रण बनाए रख सकते हैं और अपने खर्चों को सीमित रख सकते हैं।
  • कर बचाने का उपाय: कुछ बचत खाते tax बचाने में मदद कर सकते हैं। जिससे आप अपनी कुल आय पर tax बचा सकते हैं।

बचत खाते से होने वाली हानि क्या हैं?

बचत खाते से होने वाली कुछ हानियां शामिल हो सकती हैं:

  • कम ब्याज दर: बचत खाता कम ब्याज दर पर काम करता हैं। जिससे पैसे धीरे-धीरे बढ़ते हैं। लेकिन उनका उपयोग अधिक समय तक आर्थिक लाभ के लिए सही नहीं हो सकता।
  • उच्च आपूर्ति प्रमुखता: कुछ बचत खाते आपकी निकट भविष्य की आवश्यकताओं के लिए उच्च आपूर्ति को प्रमुखता देते हैं। जिससे आपका पैसा अनवांछित रूप से उपयोग हो सकता है।
  • संबंधित शुल्क: कुछ खाते निर्दिष्ट शुल्क या न्यूनतम शेष की शर्तों के लिए हर महीने शुल्क लेती हैं। जो आपके लिए अत्यधिक हो सकता है।
  • अचेतन खर्च: कुछ बचत खाते अचेतन खर्चों को बढ़ा सकती हैं। जैसे कि निरंतर खाता संचय योजनाएं जो आपको धन बचाने के लिए दिन-प्रतिदिन निर्दिष्ट राशि जमा करने की प्रेरणा देती हैं।
  • ब्याज में छूट: कुछ खाते ब्याज दर में कमी के कारण आपको अधिक लाभ प्रदान नहीं कर सकते हैं। जिससे वह खाते आपके पैसे की मौद्रिक वृद्धि को प्रभावित कर सकता है।

ध्यान दें कि ये हानियां विभिन्न बचत खातों के लिए अलग-अलग हो सकती हैं और आपके लिए सही योजना का चयन करना महत्वपूर्ण है।

saving accounts losses

Saving Account Eligibility क्या हैं?

Saving Accounts खोलने के लिए Eligibility Criteria:

  • उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए।
  • 18 वर्ष से कम उम्र के आवेदक नाबालिग या बच्चों के बचत खाते खोल सकते हैं।
  • भारत का निवासी होना चाहिए।
  • भारत में रहने वाले foreign person केवल कुछ बैंकों द्वारा प्रस्तावित Special Savings Account ही खोल सकते हैं।

Saving Accounts खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ क्या हैं?

खाता खोलने के लिए क्या-क्या दस्तावेज लगते हैं, ये तो अधिकतर लोगों को पता ही होगी पर जिन लोगों को नहीं पता उन्हें बता दें कि पैन कार्ड, आधार कार्ड, विभिन्न eligible government subsidy लेने के लिए इसे बचत खाते से जोड़ने के लिए अन्य दस्तावेज़ जैसे पहचान और आवासीय प्रमाण जिसमें मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि की ज़रूरत पड़ती है।

Frequently Asked Questions

बैंक खाता कब बंद हो जाता है?

यदि आपके बचत खाते में गत दो वर्ष तक कोई लेनदेन नही हुआ हों तो बैंक द्वारा आपके खाते को निष्क्रिय कर दिया जाता हैं। इस स्थिति से बचने के लिए आपको साल में एक बार लेनदेन अवश्य करना चाहिए।

Saving account पर अधिक ब्याज कौनसा बैंक देता हैं?

भारत में बचत खाते में सर्वाधिक ब्याज देने वाली बैंक Landmark Credit Union and Alpena Alcona Area Credit Union हैं जो वर्तमान में 7% ब्याज देती हैं।
Au small Bank और digital federal credit Bank 6% ब्याज दर के साथ दूसरे स्थान पर हैं।

Saving Account कितने खोले जा सकते हैं?

RBI द्वारा खाते खोलने की संख्या पर कोई limit नहीं हैं। आप एक या दो या उससे अधिक बचत खाते खोल सकते हैं।

बचत खाता अच्छा है या बुरा?

आम नागरिक के लिए बचत खाता एक अच्छा विकल्प हो सकता हैं। किंतु इसे इतना भी अच्छा नहीं कहा जा सकता हैं क्योंकि किसी भी प्रकार का बचत खाता उन जरूरतों को अधिक सुंचारू रूप से पूर्ण नहीं कर सकता जिस उद्देश्य से लोग पैसा सुरक्षित रखते हैं। इसको अच्छे से समझने के लिए आपको मुद्रा स्फ़ीति को अच्छे से समझना होगा।

सेविंग अकाउंट में कितना पैसा रखने पर टैक्स नहीं लगता है?

बचत खाते में पैसा रखने पर किसी भी प्रकार का tax नहीं लगता हैं। लेकिन बैंक में जमा उस धनराशि से आपको 10,000 से अधिक सालाना ब्याज की प्राप्ति होती हैं तो उस ब्याज के ऊपर tax लगाया जाता हैं।

Saving account में न्यूनतम राशि कितनी होनी चाहिए?

किसी भी बैंक में बचत खाते की न्यूनतम राशि 0 से 5000 तक होती हैं। सभी बैंक के न्यूनतम राशि के नियम अलग हो गए हैं।

निष्कर्ष

इस लेख में आप सभी ने जाना की saving accounts कितने प्रकार के होते हैं और ये कैसे खोला जा सकता है। साथ ही साथ आपने जाना कि इन सभी खातों की क्या-क्या विशेषताएँ हैं। अभी आपको saving account खोलने से पहले मूल जानकारी पता चल जाएगी।

अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी राय या प्रश्न हो तो हमारी साथ टिप्पणी के माध्यम से सांझा अवश्य करें। आपकी प्रतिक्रिया हम आपके लिए और अधिक महत्वपूर्ण लेख लिखने के लिए प्रेरित करते हैं।

व्यापार, वित्तीय, लेखांकन और कराधान से संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारा आवास बनाएं। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो अपने मित्रों और विरासत से सांझा अवश्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized by Optimole