Skip to content

JAIN ACCOUNTS

Home » Computerized Accounting System information

Computerized Accounting System information

Computerized accounting system in hindi

प्राचीन काल से लेकर अब तक लेखा प्रणाली ने हमारे जीवन को आसान और बेहतर बनाया हैं। इसने हमारे आर्थिक विकास को एक नई दिशा दी हैं। जिसमे Computerized Accounting System ने एक नई दिशा दी हैं।

जो लेखा प्रणाली प्राचीन काल में पत्थर पर लिखी जाती थी। अब वह कपड़ो से लेकर कागज तक होती हुई computerised हो गई हैं। लेखा प्रणाली को समय के साथ विकसित भी किया गया हैं।

आज के समय कोई लेखाकार किसी कंपनी के account को कागज पर उतार कर नही रखता हैं। आज के कम्प्यूटर युग में बड़े से लेकर छोटे व्यापार का हिसाब किताब कंप्यूटर पर होने लगा हैं।

इस लेख के माध्यम से हम आज के इस Computerised Accounting System in hindi को और अधिक समझने का प्रयास करेंगे। और साथ ही significance of computerized accounting system और व्यवस्था के बारे में देखेंगे।

Keywords
What is computerized accounting system?
What is history of computerized accounting system?
What are the features of computerized accounting system?
What are the importance of computerized accounting system in accounting?
What are the types of computerized accounting system?
What is advantage and disadvantage of computerized accounting system?
What is required for computerized accounting system?
What are the limitations of computerized accounting system?
Computerized accounting system vs manual account

Computerized Accounting System से आप क्या समझते है?

आप में से अधिकांश लोगों के मन में यह प्रश्न अवश्य होगा कि Computerized accounting system क्या हैं? किसको बोलते हैं? आइए जानते हैं कि how to define computerized accounting system?

आप में से अधिकांश लोग यह तो जानते होंगे कि लेखांकन क्या होता हैं? अगर नहीं जानते हैं तो हमारे लेखांकन संबंधित लेख को अवश्य पढ़े। पहले लेखांकन को कागज पर किया जाता था। अब इसको computer के साथ किया जाता हैं।

हस्त लेखन के आधुनिक विकल्प को ही computerized accounting system कहा जाता हैं। जिसमे आज की technology का उपयोग होता हैं।

how computerized accounting system was developed

लगभग सभी लोगो को नहीं पता होगा कि Computerized accounting system का इतिहास क्या हैं? न ही कभी किसी ने जानने का प्रयास किया होगा। परंतु आज हम इस लेख के माध्यम से यह जानने की कोशिश करेंगे कि प्रथम लेखा सॉफ्टवेयर कब आया?

हमने अपने पिछले लेखांकन से संबंधित लेखों में अवश्य इसका इतिहास बताया होगा। आप उन्हे देख सकते हैं। आज हम इस विषय पर संक्षिप्त में जानकारी दे रहे हैं। इसका इतिहास 1978 से आरंभ होता हैं। जब लेखा सॉफ्टवेयर को बाजार में प्रथम बार लाया गया था।

लेखांकन में कंप्यूटर की क्या भूमिका होती है?

आज के समय किसी भी व्यवसाय के लिए लेखांकन कितना आवश्यक हैं? यह सभी जानते हैं। और बढ़ती technology के साथ ही Computer ने accounting को आसान बना दिया है। आज के समय में Computer के बिना accounting की कल्पना भी नहीं की जा सकती हैं।

Computerized accounting system की विशेषताएं क्या हैं?

  • Data Security – इसमें आपका data सुरक्षित रहता हैं।
  • Improved Reporting – आपके व्यवसाय की report तैयार करने में improvement मिलती हैं।
  • Accuracy – गणना करने में गलती कम होती हैं।
  • Speed – तेजी से कार्य होता हैं।
  • Scalability – ये बहुत flaxible होते हैं।
  • Reliability – यह standard reporting तैयार करने में सक्षम होते हैं।

कम्प्यूटरीकृत लेखा प्रणाली के प्रकार क्या हैं?

इसके तीन प्रकार होते हैं।

  1. Ready made – सभी उपयोगकर्ता के लिए समान रूप से उपयोग करने के लिए Computerized accounting system को पहले से तैयार करके रखा जाता हैं इसलिए इसे Readymade कहा जाता हैं।
  2. Customized – एक तरह से अनुकूलित! जिसे उपयोगकर्ता की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए कुछ परिवर्तन किए जाते हैं।
  3. Tailor – made – किसी उपयोगकर्ता के लिए विशिष्ट रूप से तैयार किया जाता हैं। जिसमे उसके व्यवसाय से जुड़े हर कार्य को ध्यान में रखते हुए सभी विशेषताओं को जोड़ा जाता हैं।

कम्प्यूटरीकृत लेखांकन के गुण और दोष क्या है? या कम्प्यूटरीकृत लेखांकन के लाभ और हानि क्या है?

Pros of computerized accounting system.

  • Automation – काफी entries स्वतः हो जाती हैं।
  • Data Access – किसी भी Data तक कभी भी पहुंच सकते हैं।
  • Security – Data सुरक्षित रहता हैं।
  • Visuals – अपने खातों को ढूंढना और देखना आसान होता हैं।
  • Cost effective – manual की तुलना में यह काफी सस्ता होता हैं।
  • Save time – समय की बचत करता हैं।
  • Simplicity – कार्य को सरल बनाता हैं।
  • Ability – अधिक कार्य करने की क्षमता।

Cons of computerized accounting system.

  • Lack of expertise – काम करने वाले लोगो की कमी
  • Potential fraud – Software के मामले में होने वाली धोखाधड़ी ।
  • Heavy installation and training cost – installation charges aur सिखने का खर्चा
  • Technical issues – technology संबंधित गलतियां।
  • Disruption of work – कार्य में बाधा ।
  • Incorrect information – गलत जानकारी होना।
  • Loss of employment security – रोजगार में कमी
  • Health issues – स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक

Computerized accounting system के लिए क्या चाहिए?

इसके लिए Operating System और Accounting Frame work की आवश्यकता होती हैं।

Manual Accounting System vs Computerized Accounting System

  • Data – Manually में किसी कंपनी के किसी कंपनी के Data को hard copy के रूप में सुरक्षित रखा जाता हैं जबकि computerized में computer में soft copy के रूप में सुरक्षित रखा जाता हैं।
  • Duplicate Entry – manual में एक ही entry को 2 – 3 बार करना पड़ता हैं लेकिन computer में एक Entry करने से उससे संबंधित entry automatically हो जाती हैं।
  • Trial Balance – manual में trial Balance के लिए ledger की आवश्यकता होती हैं किन्तु computer में ledger के बिना Trial balance निकाला जा सकता हैं।
  • Financial Statements – दोनो में Trial balance की availability पर financial statements निर्भर करता हैं।
  • Calculation – manual में सभी गणना हाथो से की जाती हैं पर computer में गणना automatic हो जाती हैं।
  • Speed – manually accounting system की तुलना में computerized accounting system की speed अधिक होती हैं।
  • Backup – manual में backup सम्भव नहीं है लेकिन computer में backup लिया जा सकता हैं।

कम्प्यूटर लेखांकन course fee कितना हैं?

यह निर्भर करता हैं कि आप कहा से सीख रहे हैं। और कोनसा accounting software सिखने की कोशिश कर रहे हैं। सामान्यतः Tally की course fee 3 – 4 हजार तक हो सकती हैं। जो आपको एक accounting software सिखने के लिए देना होता हैं।

निष्कर्ष

इस लेख से आपने Computerized accounting system को पूरे तरीके से समझ लिया हैं। इस लेख से संबंधित कोई प्रश्न या राय होने पर टिप्पणी अवश्य करें।

व्यापार, वित्तीय, लेखांकन और कराधान संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारा अनुसरण करें। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो अपने मित्रों और रिश्तेदारों से सांझा अवश्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Optimized by Optimole